समीर शेख बनकर Job खोज रही थी Maya, फिर हुआ चौंकाने वाला खुलासा

ठाणे: महाराष्ट्र के भिवंडी से एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है, जहां आवारा होने के शक में पुलिस जब एक किशोर को थाने लाई तो पता चला कि वो असल में एक लड़की है. पुलिस ने बताया कि लड़की असामाजिक तत्वों से बचने के लिए पुरुषों के कपड़े पहनकर रहता था. 

क्यों लड़का बनी माया?

शांति नगर पुलिस थाना के सब इंस्पेक्टर दीप भवर ने बताया कि शुरू में किशोर ने अपना नाम समीर शेख बताया, लेकिन बाद में उसने खुलासा किया कि उसका असली नाम माया है और वह एक महिला है. यह जानकार सभी लोग हैरान रह गए क्योंकि उसने खुद को बिल्कुल पुरुषों की तरह बना रखा था.

माया ने बताया कि लॉकडाउन के कारण उसे आर्थिक परेशानियों का सामना करना पड़ रहा था इसलिए उसने हादपसर स्थित अपने घर को छोड़ दिया और वह नौकरी की खोज में इधर-उधर घूम रही थी. लेकिन उसे अब तक इस काम में कामयाबी नहीं मिली पाई.

पुलिस ने परिजनों को लौटाया

दीप भवर ने कहा, ‘शुरुआत में माया मुंबई आई और उसके बाद वह भिवंडी में आ गई. उसने बताया कि आसामाजिक तत्वों से बचने के लिए वह पुरुष की वेशभूषा में रह रही थी ताकि कोई उसका उत्पीड़न या छेड़छाड़ न करे.

ये भी पढ़ें: दुनिया का सबसे महंगा अंगूर, एक दाने के बराबर लोगों को मिलती है सैलरी

जांच में पता है कि करीब आठ महीने हादपसर में एक किशोरी के लापता होने की शिकायत दर्ज कराई गई थी. पुलिस ने अब माया को उसके माता-पिता के पास भेज दिया है.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *