एमयू के म्यूजियोलोजी विभाग में मनाया गया अंतर्राष्ट्रीय संग्रहालय दिवस

एमयू के म्यूजियोलोजी विभाग में मनाया गया अंतर्राष्ट्रीय संग्रहालय दिवस


अलीगढ़, 18 मईः अंतर्राष्ट्रीय संग्रहालय दिवस-2022 के अवसर पर अलीगढ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के संग्रहालय विज्ञान विभाग द्वारा आईसीओएम-इंडिया (इंटरनेशनल काउंसिल ऑफ म्यूजियम) और आईसीबीसीपी (इंटरनेशनल काउंसिल फॉर बायोडिटेरियोरेशन ऑफ कल्चरल प्रॉपर्टी) के सहयोग से हाइब्रिड मोड में ‘संग्रहालय की शक्ति’ विषय पर एक दिवसीय संगोष्ठी का आयोजन किया गया। ।
प्रोफेसर अंबिका पटेल, अध्यक्ष, आईसीओएम-इंडिया (अंतर्राष्ट्रीय संग्रहालय परिषद-भारतीय राष्ट्रीय समिति) ने संग्रहालयों में सतत विकास की शक्ति के अर्जन के बारे में बात की।
डॉ वीरेंद्र नाथ, अध्यक्ष इंटरनेशनल काउंसिल फॉर बायोडीटेरिएशन ऑफ कल्चरल प्रॉपर्टी (आईसीबीसीपी) ने संरक्षण के क्षेत्र में आईसीबीसीपी की भूमिका के बारे में बात की।
सुश्री ममता मिश्रा, निदेशक इनटैक संरक्षण संस्थान, लखनऊ द्वारा ‘संग्रहालय संग्रह का संरक्षण’ विषय पर ‘डॉ शशि धवन स्मृति व्याख्यान’ दिया गया।
जीवन विज्ञान संकाय के डीन, प्रोफेसर मोहम्मद अफजाल ने अंतर्राष्ट्रीय संग्रहालय दिवस 2022 की थीम पर उद्घाटन भाषण दिया।
अपने स्वागत भाषण में प्रोफेसर अब्दुर्रहीम के (अध्यक्ष, संग्रहालय विभाग और महासचिव, आईसीओएम-इंडिया) ने संग्रहालयों में डिजिटलीकरण और पहुंच पर नवाचार करने की शक्ति का वर्णन किया।
डॉ मंदाना बरकेशली, एसोसिएट प्रोफेसर, मेलबर्न विश्वविद्यालय, ऑस्ट्रेलिया ने संग्रहालयों में शिक्षा के माध्यम से सामुदायिक निर्माण की शक्ति के बारे में बताया।
डॉ अमीज़ा ज़रीन (सहायक प्रोफेसर, संग्रहालय विज्ञान विभाग) ने धन्यवाद ज्ञापित किया।
डॉ दानिश महमूद (संयोजक) और डॉ सुबूही नसरीन (सह संयोजक) ने कार्यक्रम का संचालन किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *